चौथी आँख

test

Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

Sunday, 19 February 2017

खाकी बर्दी का रॉब दिखाते हुए दरोगा ने की बेरहमी से महिला की पिटाई

भिंड में खाकी का ख़ौफ़ ख़त्म नही हो रहा है, खाकी वेक़सूर और मासूमो पर कहर बरपा रही है। मामला सुरपुरा थाना क्षेत्र के रमाकोट गांव का है जहा एक महिला की पुलिस ने गांव के कुछ दवंगो के साथ मिलकर मारपीट कर दी। महिला ने मारपीट का आरोप थाने के दरोगा पर लगाया है। महिला को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहा उसकी हालत गभीर बनी हुई है। दरअसल रमाकोर्ट गांव की रहने बाली श्रीबति नरवरिया का लड़का मंगल गांव की रहने बाली रश्मि बघेल समाज की लड़की को भगा ले गया। जिसकी शिकायत लड़की के परिजन ने थाने में की। पुलिस ने प्रेमी मंगल के खिलाफ मामला दर्ज कर उसकी तलास शुरू कर दी। और लड़की के परिजन बीती रात पुलिस के साथ प्रेमी मंगल सिंह के घर पहुचे। जहा मंगल की श्रीबति मिली। पुलिस ने जब पूछताक्ष की तो कुछ भी बताने से इंकार कर दिया। जिससे पुलिस और लड़की के परिजन आग बबूला हो गए। और महिला की बेरहमी के साथ मारपीट कर दी। पत्नी के साथ मारपीट देख महिला का पति पुलिस के डर से छुप गया। जब पुलिस घर से बहार निकली तो उसका पति महिला श्रीबति को गभीर हालत में जिला अस्पताल ले गया। जिला अस्पताल चौकी के पुलिसकर्मी ने महिला का मेडिकल कराया। महिला की हालत गभीर बनी हुई है।इस मामले में खास बात यह है घटना के बाद पुलिस का कोई आला अधिकारी अस्पताल नही पंहुचा। महिला श्रीबति और उसके पति ने तांडव मचाने बाले सुरपुरा  थाना प्रभारी रामबाबू सहित गांव के दवंगो पर मारपीट का आरोप लगाया है। थाना प्रभारी रामबाबू यादव आरोपियों और वेकसूर लोगो पर बर्दी का रॉब दिखने के लिए जाने जाते है। रामबाबू पर एक साल पहले ऊमरी थाने की हवालात में बाइक चोरी के आरोपी को इतना पीटा था की वो हवालात में फाँसी लगाने को मजबूर हो गया था।इस घटना के बाद दरोगा वावू कई महीने तक सस्पेंड रहे।  लेकिन विभागीय जाँच में उनके बरिष्ठ अधिकारियो ने उनको बचा लिया। लेकिन एक बार फिर थाना मिलने पर दरोगा ने अपना रॉब दिखाना शुरू कर दिया। अब देखना ये होगा पुलिस अपने महकमे के दरोगा के खिलाप क्या एक्शन लेती है

No comments:

Post a comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages